गोपालगंज में बेख़ौफ़ अपराधियों ने रिटायर्ड सुपरवाइजर की गोलिओं से भुनकर किया निर्मम हत्या

गोपालगंज में में अपराध की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। जिले में बेखौफ अपराधी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस पदाधिकारी सिर्फ मामले के उद्भेदन व अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी की बात कह अपने दायित्व की इतिश्री कर देते हैं। यही वजह है कि लगातार हत्या, डकैती, लूट सरीखे संगीन अपराधों का ग्राफ दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। जिला में शायद ही कोई ऐसा दिन होता है जब आपराधिक घटना न हो।

ताजा मामला गोपालपुर थाना क्षेत्र का है, जहां बेखौफ अपराधीयो ने थाना क्षेत्र के बसवनापुर गांव में 60 वर्षीय रिटायर्ड सुपरवाइजर व किसान को गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी। हत्या के कई घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुच पायी। 60 वर्षीय मृतक का नाम आजाद भगत है। वह गोपालपुर के बसवनापुर गाँव का रिटायर्ड सुपरवाइजर था। जो रिटायरमेंट के बाद गाँव में ही खेती करता था।

मृतक के छोटे भाई मनोहर भगत ने बताया की उसके बड़े भाई घर में खाना खाकर जैसे ही दरवाजा के पास पहुचे। तभी गाँव के ही अवैध शराब कारोबारी पवन राय ने उनके सीने में दो गोली मार दी। मारने के बाद आरोपी अपने साथियो के साथ फरार हो गया। घटना के दौरान आरोपी के साथ दो तीन लोग और थे। वही गोली लगने से घायल आजाद भगत को गंभीर हालत में स्थानीय पीएचसी में भर्ती कराया गया। जहा चिकित्सको ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बाद में पीएचसी से मृतक के शव को गोपालगंज सदर अस्पताल में भेज दिया गया है।

मृतक के भतीजे विशाल भगत ने बताया की आरोपी पवन राय बिहार में शराबबंदी के बाद भी यूपी से शराब लाकर यहाँ बेचता था। उसके धंधे का कभी विरोध नहीं किया गया। बावजूद इसके किसान और रिटायर्ड कर्मी को गोली से मारकर हत्या कर दिया गया। मृतक कोलकाता में निजी कम्पनी में सुपरवाइजर के पद पर नौकरी करते थे। वे हाल में ही रिटायर्ड होकर गाँव में रहकर खेती करते थे। लेकिन दबंगो ने उनकी हत्या कर दी।

हत्या की सुचना के बाद भी गोपालपुर पुलिस मौके पर नहीं पहुची। जिसको लेकर परिजनों में प्रशासन के प्रति खासा आक्रोश है। बहरहाल इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ़्तारी नहीं हो सकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!