गोपालगंज: आंसर शीट घोटाला मामले में गिरफ्तार किये गए स्कूल के दोनों कर्मियों को हुई जेल, दोनों ने खुद को बताया निर्दोष

गोपालगंज जिले के एस एस बालिका इंटर स्कुल में हुए आंसर शीट घोटाला मामले में गिरफ्तार किये गए स्कूल के दोनों कर्मियों को देर शाम  जेल भेज दिया गया. जबकि स्कूल के गिरफ्तार प्राचार्य को अभी भी नगर थाना में रखा गया है. जहाँ प्राचार्य प्रमोद श्रीवास्तव से एसआईटी की टीम पूछताछ कर रही है.

घोटाले में गिरफ्तार कर जेल भेजे गए स्कूल के आदेशपाल छठू सिंह और उसकी पत्नी ने खुद को बेकसूर बताया है. आदेशपाल छठू सिंह ने प्राचार्य पर ही आरोप लगाते हुए कहा है की उसे जानबूझकर फंसाया गया है.  वहीँ आदेशपाल की पत्नी सुधा देवी ने भी कहा की उनके पति निर्दोष है. वे समय से ड्यूटी करते थे. और समय से घर वापस लौट आते थे. फिर जनबुझकर उन्हें प्राचार्य के द्वारा फंसाया जा रहा है.

दरअसल गोपालगंज के एसएस बालिका इंटर स्कूल में मेट्रिक की परीक्षा का मूल्याङ्कन करने के लिए करीब एक लाख कॉपियो को भेजा गया था. लेकिन मूल्याङ्कन के बाद रहस्यमय तरीके से इस स्कूल से करीब 42 हजार कापियां गायब हो गयी. इसका खुलासा तब हुआ जब बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड ने कुछ कॉपियो के दोबारा मूल्याङ्कन के लिए कॉपियो की मांग की. इसी मांग के बाद जब दो विषयों के चार कॉपी गायब पायाब गये. तब इस मामले का खुलासा हुआ की यहाँ स्कूल के सील बंद स्ट्रोंग रूम से 216 बैग गायब है. इस बैग में करीब 42 हजार से ज्यादा कॉपिया थी.

गायब कॉपियो के बाद स्कूल के प्रिंसिपल प्रमोद कुमार श्रीवास्तव ने नगर थाना में आदेशपाल छठू सिंह और नाईट गार्ड आसपूजन सिंह के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराया था. इसी प्राथमिकी के बाद पुलिस ने दोनों अरोपियो को कल मंगलवार को ही गिरफ्तार कर लिया था. जिसे आज पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया.आरोपी प्राचार्य को देर शाम कही अज्ञात जगह पर रखकर उससे लगातार पूछताछ की जा रही है. हालाकि इस मामले में एसआईटी की टीम नेतृत्व कर रहे सदर एसडीपीओ नीरज कुमार सिंह ने अभी कुछ भी बताने से इनकार कर दिया है. इस मामले में पुलिस की लाख पूछताछ के बावजूद गायब कॉपियो को अभीतक बरामद नहीं किया जा सका है. जो पुलिस के लिए बहुत बड़ी चुनौती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!