गोपालगंज: मृत सैप के परिजनों का आरोप “हत्या के बाद शव को बोरे में रखकर फेकने की थी तैयारी”

गोपालगंज में सैप के जवान को उसके साथी जवान ने जहा गोलिओ से भुनकर हत्या कर दी. वही हत्या के बाद गोपालगंज के पंचदेवरी प्रखंड का नटवा गाँव रणक्षेत्र बन गया. यहाँ सुबह से ही आक्रोशित लोगो की भीड़ आरोपी सैप जवान को भीड़ को सौपने के लिए उग्र हो गयी. जिसके बाद पुलिस को कई राउंड फायरिंग भी करनी पड़ी. घटना कटेया थानाक्षेत्र के नटवा गांव की है.

मृतक सैप के जवान का नाम नन्द जी यादव है. वह भोरे के हरदिया गाँव का रहने वाला था. पिछले कई वर्षो से नन्द जी यादव सैप में तैनात थे. उनकी ड्यूटी हाल के ही दिनों में कटेया के नटवा गाँव में नहर बनाने वाली कम्पनी के बेस कैंप के पास लगी थी. यहाँ कई सैप के जवानों को रहने के लिए अपराध नियंत्रण को लेकर कैंप बनाया गया था.

मृतक के परिजन गोरखनाथ यादव के मुताबिक आज सुबह उन्हें सुचना मिली की उनके परिजन नन्द जी यादव को उनके ही साथियो ने गोलिओ से भुन दिया है. उनकी हत्या के बाद शव को बोरे में रखकर फेकने की तैयारी थी. लेकिन ग्रामीणों को इसकी सुचना जैसे ही मिली ग्रामीण उग्र हो गए. पीड़ित परिजनों का आरोप है की जब वे मृतक का शव लेने के लिए कैंप पर पहुचे तो उन्हें शव देने से इंकार कर दिया गया और उनकी लाठी डंडो से पिटाई की गयी.

मृतक के भतीजे सुरेश यादव के मुताबिक उनके चाचा की रात को ही सैप के दुसरे जवानों के द्वारा गोली मार कर हत्या कर दी गयी. विवाद की वजह क्या है. उन्हें भी नहीं पता है. मृतक नन्द जी यादव को 4 बेटी और 3 बेटा है. जिसमे एक बेटी की शादी अगले माह में होने वाली थी.

आज घटना की सुचना के बाद कटेया के नटवा गाँव में हजारो की संख्या में लोग पहुच गए और आरोपी जवान मतवर सिंह को भीड़ को सौपने की मांग करने लगे. लोगो के भीड़ को शांत करने के लिए पुलिस को कई राउंड फायरिंग भी करनी पड़ी. बाद में भारी मशक्कत के बाद शव को पोस्ट मार्टम के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भेज दिया गया.

सदर अस्पताल में डीएम अनिमेष कुमार पराशर पहुचे. उन्होंने मृतक के परिजनों और रिश्तेदारों से मुलाकात की और हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया. डीएम ने कहा की रात में सैप के दुसरे जवान ने इनकी हत्या कर दी है. जिसको लेकर वे एसपी को आवश्यक निर्देश दिए है. उन्होंने कहा की जो भी आरोपी है उसे सख्त से सख्त सजा दी जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!