गोपालगंज में युवा समाजसेवी अनस सलाम ने रक्तदान कर बचाई महिला की जान

गोपालगंज के सफियाबाद निवासी चम्पा देवी खून के अभाव में सदर अस्पताल गोपालगंज में जिंदगी और मौत के साथ लड़ रही थी। चिकित्सकों ने रक्त की कमी बताई, उसे एक यूनिट खून की जरूरत थी। इस पर चम्पा देवी के परिजनों ने डिस्ट्रिक्ट ब्लड डोनर टीम के सदस्य परवेज आलम के समक्ष अपनी समस्या रखकर एक यूनिट रक्त उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। जैसे ही इसकी सूचना डिस्ट्रिक्ट ब्लड डोनर टीम के सदस्य परवेज आलम को मिली। इन्होंने रक्तदाता की तलाश शुरू कर दी। इनकी प्रेरणा से शहर के युवा समाजसेवी अनस सलाम आगे आए और रक्तदान के लिए तैयार हुए। उक्त युवक ने ब्लड बैंक में एक यूनिट रक्तदान कर महिला के इलाज में सहयोग किया।

इस संबंध में डिस्ट्रिक्ट ब्लड डोनर टीम के सदस्य परवेज आलम ने कहा कि गोपालगंज के युवा रक्तदान के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। जब भी खून की जरूरत होती है मात्र थोड़ी सी प्रेरणा पर यह रक्तदान के लिए तैयार हो जाते हैं। यहां तक कि लोग रक्तदान कर अपना खुशी का हर मौका सेलिब्रेट कर रहे हैं। गोपालगंज में रक्तदान एक जुनून बन गया है।

रक्तदान के बाद अनस सलाम ने कहा कि रक्तदान महादान है, रक्तदान सभी को करनी चाहिए। क्योंकि हमारे द्वारा किए गए रक्तदान से किसी की जान बच सकती है। रक्तदान करने से किसी प्रकार की कमजोरी नहीं आती है बल्कि शरीर स्वस्थ रहता है। साल में कम से कम दो बार अवश्य रक्तदान करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!