सृष्टि जैन मर्डर का मुख्य आरोपी रजनीश लगा पुलिस के हत्थे !

इंदौर की सृष्टि जैन मर्डर मामले में मुख्य आरोपी रजनीश को पुलिस ने आखिरकार गिरफ्तार कर लिया. बताया जा रहा है कि वो राजधानी में ही छिपा बैठा था हालांकि एक अन्य आरोपी राहुल अभी तक फरार है.

पुलिस की घंटों तक चली पूछताछ में उसने मर्डर करने की बात स्वीकार कर ली है. साथ ही उसने सृष्टि और उसके परिवार वालों पर भी शादी डॉट कॉम के बहाने पैसेवाले लोगों को झांसा देने का आरोप लगाया है. यहाँ ये बात भी महत्वपूर्ण है कि शादीशुदा और दो बच्चों का बाप रजनीश इस सोशल साइट पर खुद को कुंवारा बताकर क्या कर रहा था और उसने सृष्टि को किस मकसद से पटना बुलाया था.

आज हुयी पूछताछ में रजनीश ने बताया कि जब उसका पहली बार किडनी ट्रासप्लांट हुआ तो पत्नी ने जबकि दूसरी बार उसके बड़े भाई ने किडनी दी थी. ज्ञात हो कि इसी मामले में एक अन्य आरोपी राहुल रजनीश के इसी बड़े भाई का बेटा है.

राहुल फिलहाल फरार है और आशंका है कि वो टाटा में छिपा है. ये जानकारी आज एसएसपी ऑफिस पहुंची रजनीश की पत्नी किरण ने दी. उसने बताया कि रजनीश बेकुसूर है और हत्या राहुल ने ही की है.

रजनीश ने मीडिया से भी बात की जिसमें उसने कहा कि सृष्टि की हत्या कर उसने नेक्स्ट जेनरेशन को बर्बाद होने से बचा लिया है. इस मामले में हालांकि कई तरह की बातें सामने आई हैं जिस वजह से अभी भी हत्या के सही कारणों का पता नहीं चल पाया है.

एसएसपी मनु महाराज के अनुसार रजनीश को सृष्टि का किसी दुसरे मर्द से बात करना और फोटो खिंचवाना पसंद नहीं आया था जिसकी वजह से उसने गुस्से में ये काम किया. उधर हत्या का कारण युवती द्वारा रजनीश की कथित गलत आदतों की वजह से शादी से इंकार करना भी सामने आया था.

मामले में एक कारण यह भी है कि रजनीश ने शादी को लेकर इंटरव्यू का झांसा देकर सृष्टि को बुलाया और उससे रिलेशन बनाना चाहा मगर सृष्टि ने इससे इंकार कर दिया. सृष्टि का अंतिम संस्कार करने पटना आये उसके पिता ने अपनी बेटी के रजनीश से किसी भी पूर्व संबंध से इनकार किया था.

ज्ञात हो कि 25 जनवरी की सुबह ऑटो से स्टेशन जा रही सृष्टि जैन की जक्कनपुर थाने के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. गणतंत्र दिवस को लेकर हाई अलर्ट के दौरान हुई इस हत्या तथा हत्यारे के फरार हो जाने के कारण पटना पुलिस को काफी फजीहत उठानी पड़ी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!