गोपालगंज:शिक्षको की प्रताड़ना से हुए इकिशा आत्महत्या काण्ड में पिता ने राष्ट्रपति से न्याय की लगाई गुहार

गोपालगंज के हजियापुर निवासी राघव शाह जो पहले से दिल्ली के नॉएडा में अपना घर संसार बसाये थे पर उन्हें क्या मालूम था की यही शहर एक दिन उनसे उनकी बेटी को छीन लेगा. मयूर विहार फेज –1 में स्थित एहेलकौन पब्लिक स्कुल के शिक्षको ने अपने ही छात्र इकिसा जो की नौवीं के छात्रा थी उसे इस कदर शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया की वो न ही पढ़ सकी न ही इस दुनिया में रह सकी . ऐसा करने वाले विद्यालय के दो शिक्षक राजेश सहगल व नीरज आनंद है . पिता ने इनके खिलाफ राष्ट्रपति सहित प्रधानमंत्री ,गृह मंत्री, महिला आयोग व मानवाधिकार आयोग को पत्र लिखकर न्याय की मांग की है .

राघव शाह जो राष्ट्रीय स्तर पर पंडित बिरजू महाराज के साथ कथक नृत्य में देश के मान को बढ़ा रहे थे . उनकी बेटी इकिसा भी एक अच्छी कथक नृत्यांगना थी . लेकिन इशिका के स्कुल शिक्षको ने जान बुझकर उसे कई विषयो में फेल कर दिया जिसके दबाव में आकर इशिका ने अपने जीवन लीला को समाप्त कर दी और उसने आत्महत्या कर लिया .इशिका ने इस बात की सुचना पूर्व में कई बार अपने पिता को दी थी पर पिता ने बात को साधारण लेते हुए इसे दरकिनार कर दिया जिसके कारण आज उनकी बेटी इस दुनिया से चली गयी . पिता ने इस आत्महत्या काण्ड में न्याय की गुहार के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह सहित महिला आयोग व मानवधिकार आयोग को पत्र लिखा है .

मृतक के पिता का कहना है की इस काण्ड से उनके गुरु श्री बिरजू महाराज भी सदमे में है .साथ ही साथ उनके लाखो शिष्य व शिष्या को गहरा आघात लगा है .मेरी बेटी सिर्फ एक छात्रा ही नही बल्कि इस देश के उभरते हुए कलाकारों में से एक थी जिसे इस देश ने भी खोया है .मेरी बेटी को न्याय मिले और उन दोषी शिक्षको के ऊपर कारवाई हो जिससे आने वाले समय फिर कोई बेटी अपने जान को यूँ नही खोएगी  इस तरह के घटना से मनावता ही ही बल्कि पूरा देश शर्मशार है ..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!