गोपालगंज: भाई की गिरफ़्तारी से आहत विवाहित बहन ने छत से कूद कर की आत्महत्या

अपने भाई के एक लूटकांड में गिरफ्तारी से आहत महिला ने शुक्रवार को सुसाइड नोट लिख कर चार मंजिली छत से छलांग लगा कर खुदकुशी कर ली. घटना कोलकाता के हुगली की है. महिला की खुदकुशी की सुचना मिलते ही परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. घटना की सूचना मिलते ही विशंभरपुर थाना क्षेत्र के सिसवा से मायके से परिवार के लोग कोलकाता के लिए रवाना हो गये.

बताया जाता है की विशंभरपुर थाना क्षेत्र के सिसवा गांव के रहने वाले सुदामा सिंह कोलकाता के हुगली में नौकरी करते थे. उसी कंपनी में काम करनेवाले गालिमपुर गांव के बलिराम सिंह के पुत्र मुसाफिर सिंह के साथ 20 वर्ष पूर्व अपनी बेटी बेबी की शादी की थी. बेबी अपने परिवार के साथ कोलकाता के हुगली में ख़ुशी-ख़ुशी रहती थी. लेकिन शायद बेबी के खुशहाल ज़िन्दगी को किसी की नज़र लग गयी. अचानक एक दिन बेबी के भाई गुड्डू सिंह को यूपी के सलेमगढ़ में हुए एक लूटकांड में छापेमारी कर गिरफ्तार किया, जहां से चोरी की आपाची बाइक और हथियार बरामद हुए. भाई के गिरफ्तारी की सुचना जैसे ही बेबी को कोलकाता में मिली वो काफी आहात हो गयी. वह बिलकुल भी इस बात पर यकिन नहीं कर रही थी की उसका भाई इस तरह का कोई घटना कर सकता है. बेबी सभी लोगों को हमेशा कहती थी की किसी न किसी के द्वारा किसी शाजिश के तहत उसके भाई को फसाया गया है. इसी बिच गुड्डू सिंह महीनो जेल रहने के बाद जमानत पर रिहा हुआ. भाई के जेल से बाहर आने के बाद जब उसने अपने भाई के ज़बानी सच्चाई जानी तो पूरी तरह सदमे में आ गयी. इसी बीच में उसके मोबाइल पर किसी ने पुलिस अधिकारी बनकर भाई का एनकाउंटर करने की धमकी दे डाली. इस पूरे घटना का जिक्र सुसाइड नोट में करते हुए बेबी ने शुक्रवार को खुदकुशी कर ली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!