गोपालगंज: आगंनबाड़ी सेविका की बहाली में हो रही है अनियमितता, धांधली के लगे आरोप

गोपालगंज जिले के कई प्रखंडो में आंगनबाड़ी सेविकाओ की बहाली में अनियमितता बरतने से लोगो में रोष है. कई जगहों पर ग्रामीणों ने आंगनबाड़ी पर्यवेक्षिका का घेराव तक कर दिया है .पंचदेवरी प्रखंड  में वार्ड संख्या 7 के केन्द्र संख्या 55 में आरक्षण के नियमो को टाक पर रख कर पिछड़ी जाती की सीट को अनुसूचित जन जाति को दे दिया गया है . ऐसा आरोप बिमल वर्मा ने लगाया है .

आपको बताये की पंचदेवरी प्रखंड में वार्ड संख्या 7 के केंद्र संख्या 55 में पिछड़े वर्ग के रिक्ति के बावजूद आम सभा में पर्यवेक्षिका के द्वारा धांधली कर इसे अनुसूचित जन जाति के लिए के आरक्षित कर दिया गया है .इसको लेकर आवेदक ने इसकी शिकायत बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को दिया गया . लेकिन कोई कारवाई नही हुई है .

कई प्रखंड में ग्रामीणों ने धांधली के आरोप लगाकर किया हंगामा .

मांझा प्रखंड अंतर्गत कोइनी पंचायत के वार्ड संख्या 4 में मस्जिद के पास सेविका सहायिका की बहाली के लिए आम सभा का आयोजन किया गया था लेकिन ग्रामीणों के हंगामा के कारण बहाली नहीं हो सकी वही ग्रामीणों का कहना था कि महिला पपर्यवेक्षिका सरस्वती पांडे के गाड़ी से नहीं उतरने के कारण ग्रामीण हंगामा करने लगे.

ग्रामीणों का कहना था कि सभा में आकर नियमावली के साथ दोनों में से किसी एक कैंडिडेट का बहाली की जाए लेकिन महिला पर्यवेक्षिका के द्वारा गाड़ी में ही रजिस्टर पर साइन कराने से गुस्साए ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया वहीं दूसरी तरफ महिला पर्यवेक्षिका सरस्वती पांडे का कहना है कि मेरे आते ही ग्रामीण हंगामा करने लगे हैं वार्ड सदस्य आबिदा खातून को बंधक बना लिया था जिसके कारण वह बहाली स्थगित कर दी गई है .

पंचदेवरी प्रखंड के प्रखंड के बनकटिया पंचायत स्थित लोहटी गांव के पोषक क्षेत्र-५ में शुक्रवार को अंागनबाड़ी सेविका की बहाली के लिए आमसभा आयोजित की गई थी। इस दौरान ग्रामीणों ने धांधली का आरोप लगाते हुए जोरदार हंगामा किया और प्रवेक्षिका का घेराव किया। चार घंटे तक चले जोरदार हंगामे के बाद आम सभा को स्थगित कर दिया गया। प्रखंड के विभिन्न पोषक क्षेत्रों में आंगनबाडी सेविका और सहयिका की बहाली की प्रक्रिया चल रही है। जातिबहुलता के आधार पर नियमावली के अनुरूप सेविका और सहायिका की बहाली होनी है।

इसके तहत शुक्रवार को बनकटिया पंचायत के लोहटी गांव में आमसभा आयोजित की गई थी। आमसभा के लिए प्रवेक्षिका स्नेहलता पहुंची थीं। सभा के दौरान ग्रामीणों ने पोषक क्षेत्र-५ के जातिय बहुलता के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि यहां अतिपिछड़ी जाति की बहुलता है । इसी बात को लेकर ग्रामीण भडक़ उठे। ग्रामीणों का आरोप है कि वार्ड सख्यां -५ में सामान्य वर्ग के लोगों की संख्या सर्वाधिक है। ग्रामीणों का कहना है कि व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने के लिए इस वार्ड को आरक्षित किया गया है। हंगामा कर रहे सैकड़ो ग्रामीणों प्रवेक्षिका का घेराव भी किया। चार घंटे तक चले हंगामे के बाद प्रवेक्षिका ने आम सभा को स्थगित कर दिया गया।

आमसभा की अध्यक्षता कर रहे, वार्ड सदस्य उदयनारायण पाण्डेय ने कहा कि आंगनबाडी सेविका और सहायिका की बहाली के लिए तैयार सूची में भी सामान्य वर्ग के लोगों की संख्या अधिक है, इसके बावजूद भी सीट को आरक्षित कर दिया गया। जोकि नियमों के साथ सीधा खिलवाड़ है। वार्ड में लोगों कुल संख्या १००३ है। जिसमें सामान्य वर्ग की संख्या ४४९ है जबकि अतिपिछड़ा वर्ग की संख्या महज ३४९ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!