गोपालगंज में कटेया के जमुनहां से पकडे गए अपराधियों के मामले में तीन प्राथमिकी दर्ज़

गोपालगंज जिला के कटेया थाना क्षेत्र के जमुनहां बाजार से ग्रामीणों के द्वारा पकड़े गए हथियार बंद दो युवकों मामले में तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है। सबसे मज़े की बात तो यह है कि ग्रामीणों की उपलब्धी को पुलिस खुद की कार्रवाई बता रही है। यह मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मामले में तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है। तीनों में मामले को पुलिस के खाते में डाल दिया गया है। जबकी घटना के  संबध में बताया जाता है कि बीते रविवार की देर शाम एक लाल रंग की आपाची बाइक पर सवार दो युवक जमुनहां बाजार में शाम चार बजे से हीं चक्कर लगा रहे थे। बार-बार चक्कर लगाते देख बाजार के व्यवसायियों को संदेह होने लगा था। इसके बाद बाजार के लोंगो ने दोनो युवकों को पकड़ कर पुछ-ताछ करने लगे। इस दौरान दोनो युवको के पास से दो देशी पिस्तौल बरामद किया गया। दोनो युवकों को बाजार के लोंगो ने एक कमरे में बंद कर पुछ-ताछ करने लगे तथा इसकी सूचना पुलिस को दी। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस देर से पहुंची। जिसपर बाजार के लोग उग्र हो गए और युवकों की बाइक को आग के हवाले कर दिया। पुलिस के आने के बाद भी लोंगो ने जमकर नारेगाजी की तथा डीएसपी के आने की मांग करने लगे। देर रात मिरगंज इंसपेक्टर बीपी आलोक पहुंचे और लोंगो को समझा-बुझा कर शांत कराया। इस मामले में सबसे चौकाने वाली बात तो यह है कि जिसको जान से मारने के लिए हथियार बंद दोनो युवक आए थे और जिसने दोनो युवकों को पकड़ कर रूम में बंदकर पुछताछ की। उनके द्वारा की गई प्राथमिकी में भी पुलिस और ग्रामीणों के सहयोग से अपराधियों को पकड़ने की बात कही गई है।

कटेया थाने के थाना प्रभारी कुमार रजनी कान्त द्वारा दर्ज किये गए प्राथमिकी में बताया गया है कि रविवार की देर शाम जमुनहां बाजार में कुछ अपराधी घुम रहे थे। जिसपर मै एसआई मतउर राम व पुलिस बल के साथ पहुंचा तो देखा कि बाजार के कुछ लोग दौड़ रहे है और दो अपराधी फाइरिंग कर भाग रहे है। पुलिस बल के साथ दौड़ा कर दोनो अपराधियों को पकड़ लिया गया। पकड़े गए युवकों ने अपना नाम अजीत सिंह तथा विशाल बताया। दोनो के पास से देशी कट्टा व एक चाकू बरामद किया गया। दोनो युवकों ने बताया है कि वह सीवान जिले के नौतन थाना
के हसुआ गांव निवासी मंटू सिंह और गोपालगंज जिले के कटेया थाना के माफी गुड़ियांव गांव निवासी राकेश गिरी के कहने पर माफी गुड़ियांव गांव निवासी  पूर्व बीडीसी के बेटे सत्येन्द्र राम को जान से मारने की नीयत से आए थे। पकड़े गए दोनो युवकों को जेल भेज दिया गया।

वही दूसरी तरफ़ कटेया थाने के चौकिदार कन्हैया राय के बयान पर दर्ज की गई प्राथमिकी में कहा गया है कि वह रविवार की देर शाम
वह जमुनहां आजार गए तो देखा कि सत्येन्द्र राम के घर के पास कुछ लोग इक्कठा है। भागने की अवाज आ रही है। तभी कटेया पुलिस की गाड़ी पहुंच गई। हथियार के साथ भाग रहे दो युवकों को पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से पकड़ लिया। तभी 50-60 की संख्या में कुछ असमाजिक तत्वों के द्वारा पकड़े गए अपाची मोटरसाइकिल को आग के हवाले कर दिया गया। हो-हल्ला करते हुए पकड़े गए दोनो युवकों के साथ धक्का-मुक्की की जाने लगी। इस मामले में पुलिस ने 60 अज्ञात लोंगो के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की तैयारी में है।

जबकि सत्येन्द्र राम के बयान पर दर्ज़ प्राथमिकी में बताया गया है कि सत्येन्द्र राम अपने मित्रों के साथ अपने अवास पर बैठे थे। तभी लाल
रंग की अपाची बाइक से दो युवक कई बार घर के तरफ़ आते-जाते रहे। जिस पर संदेह हो गया। इसकी सुचना कटेया थाना प्रभारी को दी। इतने में अपराधियों  के द्वारा जानलेवा हमला करते हुए गोली चला दी गई। बाजार का दिन होने के कारण लोग इक्कठा हो गए और भाग रहे अपराधियों को खदेड़ने लगे। तभी कटेया  थाने की पुलिस आ गई। पुलिस और ग्रामीणों के सहायोग से दोनो अपराधिायों को पकड़ लिया गया। जनता के सामने बताया गया कि मंटू सिंह और राकेश गिरी के कहने पर मुझे जान से मारने की नीतय आए थे। पुरानी राजनीतिक रंजीश के कारण हत्या कराना चाहते है। इस मामले में पुलिस ने चार लोंगो को नामजद प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन कर रही है।

One thought on “गोपालगंज में कटेया के जमुनहां से पकडे गए अपराधियों के मामले में तीन प्राथमिकी दर्ज़

  • December 1, 2017 at 2:45 pm
    Permalink

    kyo jis ko apradhi marne aya ho wo apni jan bachane ke liye kuchh bhi kr skta hai pakrna to dur ki bat mar bhi skta hai smjhe awaz time mahody!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!