गोपालगंज में ज़मीनी विवाद में दो पक्षों में हुई जमकर मारपीट, 7 महिला समेत 15 घायल

गोपालगंज जिला के माँझा थाना के भैसही चम टोली गांव में ज़मीनी विवाद को लेकर जमकर मारपीट हुआ। जिसमें 7 महिला सहित 15 लोग घायल हो गए। सभी घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहा सभी घायलों का इलाज चल रहा है।

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि माँझा थाना के भैसही चम टोली गांव में सुबह में दो पक्षो में जमीन पर कब्ज़ा करने को लेकर मारपीट हुआ। मारपीट में दोनों तरफ से 7 महिला सहित 15 लोग घायल हो गए।

एक पक्ष नागेंद्र राम का कहना है कि हमारे द्वार के आगे सरकारी जमीन है। जिसपर वर्षों से हमने कब्ज़ा किया है। जिसपर रंगलाल के द्वारा उसी ज़मीन पर दुकान खोलने के लिए कब्ज़ा कर रहा था। जिसको मना करने पर रंगलाल अपने पूरे परिवार के साथ आया और फिर और मुझसे मारपीट  करने लगा। जिसपर बचाने के लिए घरवालो को बुलाया तो रंगलाल के परिवार ने हमारे पूरे परिवार को मारपीट कर ज़ख़्मी कर दिया। ज़ख़्मी होने पर हमारे परिवार से घायल हुए सभी लोग सदर अस्पताल में ईलाज़ कराने आए हुए है। जिसमे घायल नागेंद्र राम, सतेंद्र राम, नरेश राम, गुड्डू राम, राजन राम, मीना देवी, हीरा देवी इत्यादि शामिल है।

वही दूसरे पक्ष के तरफ से रंगलाल राम का कहना है कि मैं घर से सुबह जब दुकान खोलने गया तब देखा कि नागेंद्र राम ने दुकान के सामने भैस खिलाने के लिए एक नाद को रखकर भैस को खिला रहे थे। जब मैंने नाद को हटाने के लिए कहा तो नागेंद्र राम और सतेंद्र राम ने ठंड में पहनने वाला मोफलर से गर्दन में फंसा कर मारने के लिए दबा रहे थे। जिससे मेरे गर्दन में निशान बन गया है। जब मेरे साथ मारपीट किया जा रहा था तब मैं अपने घरवालों चिल्लाना शुरू किया तब मेरे घर वाले ने आकर मुझे बचाने के लिए कोशिश कर रहे थे। तब उनके साथ में भी मारपीट किया गया। जिससे मैं वही गिर कर घायल हो गए। मेरे सर पर लाठी से मारने से मैं बुरी तरह से ज़ख़्मी हो गया। जिसके बाद गांववालों ने हमारे घरवालो को सदर अस्पताल में भर्ती कराया। भर्ती होने के बाद से ईलाज़ चल रहा है। जिसमे मेरे घर के विभिन्न लोगों को चोटें लगी। घायलों में मोगल राम, दिलीप श्रवण राम, राम, उमा राम, प्रियंका देवी, फुलझड़ी देवी, सुनरपति देवी, आरती देवी इत्यादि शामिल है।

ख़बर लिखे जाने तक दोनों पक्षों के तरफ कोई भी प्राथिमिकी दर्ज़ नही कराई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!