गोपालगंज में जय भीम फाउंडेशन के तत्वाधान में मनाया गया धर्म विजय दिवस

गोपालगंज नगर थाना क्षेत्र के हजियापुर स्थित कृष्णा टॉकीज में आज रविवार को जय भीम फाउंडेशन के तत्वाधान में धर्म विजय दिवस के अवसर पर दलित समाज के वर्तमान दशा और दिशा विषय के संदर्भ में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया.

मुख्य अतिथि डॉक्टर आलोक कुमार सुमन ने अपने विचार रखे. जिसमें उन्होंने दलितों की सामाजिक पतन के जड़ में चेतना का अभाव बताया और शिक्षा को सबसे पहले महत्व दिया एवं अपील की सही मायने में शिक्षित बने केवल साक्षर नहीं. आमंत्रित अतिथि अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अमर कुमार ने अपनी बात रखने के क्रम में नौजवानों को इशारा करते हुए कहा कि भविष्य आप पर ही निर्भर है, दिशा तय करो. डॉक्टर आलोक कुमार सुमन ने बाबा साहेब के राष्ट्र समाज की सोच को सही बताया. विशिष्ट अतिथि सचितानंद राम ने जय भीम फाउंडेशन के बारे में विशिष्ट रूप से बताएं कि कैसे फाउंडेशन के माध्यम से समाज को शिक्षित बनाया जाए. गोपालगंज अंबेडकर छात्रावास के दलित समुदाय के छात्रों ने इस गोष्ठी में भाग लेते हुए अपनी एकता को दिखाया. साथ ही साथ सुनील कुमार बैठा, संजय पासवान, मनोज कुमार रंजन ने भी अपने विचार रखते हुए समाज को सभी दिशा में चलने पर जोर दिया.

आप को बता दे की हमारे देशरत्न, देश के संविधान रचयिता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 18 91 को मध्य प्रदेश के छोटे से गांव महू में हुआ था. उनके पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल और माता का नाम भीमाबाई था. वे अपने माता-पिता की चौदहवीं संतान थे. अंबेडकर भीमराव अंबेडकर का जन्म महार जाति में हुआ था जिसे लोग अछूत और निचली जाति मानते थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!