गोपालगंज के मांझा में दहेजलोभियों ने की महिला की हत्या, 12 दिन पूर्व दिया था पुत्र को जन्म

महिलाओ के साथ उत्पीड़न की वारदाते रुकने का नाम नहीं ले रहा है. मांझा थाना क्षेत्र के आदमपुर गांव में रविवार की शाम ससुरालवालों द्वारा दहेज की माँग को लेकर बहू को फंदे से लटका कर हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है. मृतिका ने 12 दिन पूर्व एक पुत्र को जन्म दिया था.

मिली जानकारी के अनुसार गोपालगंज जिला के थावे थाना क्षेत्र के केशोपुर निवासी सुलतान अहमद ने अपनी बेटी शाहजहाँ की शादी बीते 8 नवम्बर 2016 को मांझा थाना क्षेत्र के आदमपुर गाँव निवासी इर्श मोहम्मद के बेटे मोहम्मद गुलाब से की थी. मोहम्मद गुलाब पेशे से पलम्बर है. शादी के कुछ वक़्त से ही ससुराल वालो ने उसपर दहेज़ के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया. मोहम्मद गुलाब अपनी पत्नी पर ज़ोर डालने लगा की वो अपने मईके से एक बाइक एवं एक लाख रुपया ला कर दे. लेकिन पत्नी असमंजस में पड़ जाती थी कि वह किस से मांगो क्योंकि वह एक बहूत गरीब परिवार से आई थी. इस बात को लेकर उसके पति एवं साथ में देवर और उसके सास सभी मिलकर एक साथ उसको काफ़ी प्रताड़ित करते थे. लेकिन आज का दिन उसके लिए काफी महंगा पड़ा. आज सभी ससुराल वालों ने मिलकर उसके गले में फंदा लगाकर घर में टांग दिया और उसकी मृत्यु हो गई. इतना से भी निर्दई ससुराल वालो का मन नहीं भरा तो उन्होंने गला भी घोटकर तसल्ली करी की वो मरी है कि जिन्दा है. अपनी पत्नी को मारते हुए पति ने एक बार ये भी नहीं सोचा की जिसे वो मार रहा है वो अभी 12 दिन पहले ही माँ बनी है. उसने सिर्फ अपनी पत्नी की ही हत्या नहीं की ही साथ ही साथ एक मासूम को भी अनाथ कर दिया है.

ग्रामीणों ने जब बेटी की हत्या की खबर मृतिका के परिजनो को दिया तो यह सुन कर सभी सन्न रह गए. खबर मिलते ही मृतिका के परिजन उसके ससुराल पहुँचे जहाँ अपनी बेटी का शव देख कर उनकी आँखे खुली की खुली रह गयी. तुरंत परिजनों ने घटना की सुचना मांझा थाने को दी. जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच शव को अपने कब्ज़े में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया.

घटना के बाद सभी आरोपित घर छोड़ कर फरार हैं. पुलिस ने मृत शाहजहाँ पिता के बयान पर पति एवं ससुर समेत आधा दर्जन लोगों पर मामला दर्ज किया है. प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. समाचार लिखे जाने तक किसी की गिरफ्तारी की सूचना नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!