जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी

जुलाई महीने में थोक महंगाई में भी बढ़त देखने को मिली है. जुलाई में थोक महंगाई जून के 0.90 फीसदी से बढ़कर 1.88 फीसदी हो गई है. प्राइमरी वस्तुओं खासकर खाने-पीने की चीजों के दाम बढ़ने से थोक महंगाई दर में तेजी दर्ज की गई है. मई थोक महंगाई 2.17 फीसदी से संशोधित होकर 2.26 फीसदी हो गई है. जबकि जुलाई डब्ल्यू.पी.आई. कोर महंगाई दर 2 फीसदी से बढ़कर 2.1 फीसदी रही है.

सब्जियों की महंगाई दर

माह दर माह आधार पर जुलाई में सब्जियों की महंगाई दर -21.16 से बढ़कर 21.95 फीसदी हो गई है. वहीं खाद्य महंगाई जुलाई में महीने दर महीने आधार पर -1.25 फीसदी से बढ़कर 2.12 हो गई है. साल दर साल आधार पर आलू 42.45 प्रतिशत, दालें 32.56 प्रतिशत, तिलहन 13.64 प्रतिशत, प्याज 9.50 प्रतिशत और गेहूं 1.16 प्रतिशत सस्ता हो गया.

मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की महंगाई दर

जुलाई में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की थोक महंगाई दर जून के 2.27 फीसदी से घटकर 2.18 फीसदी पर रही है. महीने दर महीने आधार पर जुलाई में फ्यूल, पावर की थोक महंगाई दर 5.28 फीसदी से घटकर 4.37 फीसदी के स्तर पर रही है.
ईंधन एवं ऊर्जा सैक्टर

ईंधन एवं ऊर्जा वर्ग में पैट्रोल के दाम 9.60 प्रतिशत, डीजल के 5.49 प्रतिशत और रसोई गैस के 0.28 प्रतिशत बढ़े हैं. इस वर्ग की कुल महंगाई दर 4.37 प्रतिशत रही. अन्य उत्पादों में खनिज 24.84 प्रतिशत महंगा हुआ है.

प्राइमरी आर्टिकल्स की महंगाई दर

जुलाई में प्राइमरी आर्टिकल्स की थोक महंगाई दर भी बढ़ी है. महीने दर महीने आधार पर जुलाई में प्राइमरी आर्टिकल्स की थोक महंगाई दर -3.86 फीसदी से बढ़कर 0.46 पर रही है. वहीं महीने दर महीने आधार पर जुलाई में चीनी की महंगाई 10.71 फीसदी से घटकर 8.44 फीसदी रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!