गोपालगंज में चोटी कटने की अफवाह पर सदर अस्पताल में उमड़ी भीड़

गोपालगंज में पिछले दो दिनों से लगातार महिलाओं की चोटी कटने की घटनाएं सामने आ रही हैं। चोटी कटने की चर्चा जगह-जगह महिलाओं में कि जा रही है। गुरुवार को सदर अस्पताल में उमड़ी भीड़ को हटाने के लिए सैप के जवानों को तैनात किया गया। अभी तक चोटी कटने की जो भी घटनाएं सामने आयी हैं वह घटनाएं हथुआ अनुमंडल के फुलवारिया थाना के दुलारपुर गांव में (60) अतवारिया देवी,महिला मीरगंज थाना के बिगही गांव के पिंटू कुमार भगत की पत्नी रविता कुमारी, विजयीपुर थाना सुदामाचक गांव के एक युवती का चोटी कटने, विशम्भरपुर थाना के सिपायाटोला गांव के संजू देवी और मांझा थाना के पूजा देवी और रानी देवी है। यह घटना अभी तक छोटी वस्तियों और ग्रामीण क्षेत्रों में ही पाई गई हैं।
सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में तैनात डॉ अमर कुमार क्या कहते है-
सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में तैनात डॉ अमर कुमार ने इसे अफवाह बताया और कहा कि सुबह से 7 महिलाओं को उन्होंने इलाज किया जिसमें से 4 महिलाओं को इलाज के बाद घर भेज दिया जब कि 3 महिला को गोरखपुर रेफर कर दिया गया। उन्होंने खास कर महिलाओं से कहा कि अस्पताल आई किसी भी महिला का बाल नहीं कटा हुआ था जो महिला आई थी बेहोशी का नाटक कर वह अपने घर परिवार में सिम्पैथी गेन करना चाहती है। परिजनों के कहने पर इलाज के लिए बाहर भेज दिया गया है जब कि पूजा देवी नाम कि महिला जो बाल साथ में लाई थी उससें मिलान किया गया तो वह उसके बाल थे ही। बाल काटने या कटने का मामला महज अफवाह है। कुछ लोगों द्वारा अफवाह फैलाई जा रही है। जिसकों रोकने में सभी लोगों कि भागीदारी निभाने कि जरूरत है।  जब कि सुबह ले ही सदर अस्पताल में महिलाओं की भीड़ जमा हो गई जिसकों देखते हुए अस्पताल प्रशासन को पुलिस बल बुलाना पड़ा। सैप के जवानों ने अस्पताल परिसर से लोगों को हटाते रहे।
सैप के हवलदार क्या कहते है-
सैप के हवलदार राजदेव राय ने बताया कि बाल कटने कि सूचना पर अस्पताल में भर्ती महिलाओं को देखने के लिए भीड़ जमा हो गई थी जिस कारण मरीजों का इलाज समय से नहीं हो पा रहा था जिसकों हटाने के लिए सैप बल को तैनात किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!