Mon. Aug 26th, 2019

यूपी में शादी करिये और योगी सरकार से 20 हजार रुपये लिजिए

उत्तर प्रदेश में गरीब लड़कियों की शादी राज्य सरकार कराएगी। इसके लिए राज्य सरकार के खर्चे पर सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस तरह के आयोजनों में सांसद और विधायक के अलावा समाज के प्रतिष्ठित लोगों को भी बुलाया जाएगा। खास बात यह है कि अब तक इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि बीस हजार रुपये में कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी और उसे कन्या के खाते में जमा कर दिया जाएगा। इसके साथ ही एक स्मार्ट फोन का उपहार भी उसे मिलेगा। समाज कल्याण विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेज दिया है।

मीडिया की खबरों का मानें तो विवाह कराने की जिम्मेदारी डीएम के पास होगी जो कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के पहले चरण में 71,400 लड़कियों की शादी कराएगी। पांच से अधिक विवाह होने पर यह समारोह क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, नगर निगम और नगरपालिका परिषद के स्तर पर आयोजित किया जाएगा। जिलाधिकारी एक विवाह कार्यक्रम समिति का गठन करेंगे।

सरकार लड़कियों को नकदी के साथ बर्तन और कपड़े भी देगी। साथ ही सरकार के द्वारा बनाई गई समिति ही टेंट, विवाह संस्कार, पेयजल आदि की व्यवस्था कराएगी। पहले जहां इस योजना के तहत लाभार्थी को 20 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता था, वहीं अब सरकार 35 हजार रुपये खर्च करेगी। इसमें बीस हजार रूपये कन्या के खाते में, दस हजार से कपड़े, बिछिया, पायल, सात बर्तन, एक जोड़ी वस्त्र और स्मार्ट फोन खरीदा जाएगा। पांच हजार रुपये पंडाल आदि के लिए अधिकृत निकायों को दिया जाएगा।

योजना का लाभ 15 फीसदी अल्पसंख्यकों को भी दिया जाएगा। सरकार के इस समारोह में सामान्य व्यक्ति और संस्थाएं भी उपहार दे सकेंगे। अगर कोई ऐसा करना चाहेगा तो पहले इसकी सूचना देनी होगी। साथ ही उपहार देने वाले का नाम, संख्या और अनुमानित मूल्य सूची बद्ध करके सूचना पटल पर प्रदर्शित भी करना होगा। इस योजना में अनसूचित जाति-जनजाति 30 प्रतिशत, अन्य पिछड़ा वर्ग 35, सामान्य वर्ग 20 और अल्पसंख्यक वर्ग की 15 प्रतिशत भागीदारी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!