गोपालगंज जिला में अलग-अलग घटनाओ में 17 वर्षीय युवक समेत 2 वर्षीय बच्ची बनी सर्पदंश का शिकार

गोपालगंज जिला के मीरगंज थाना क्षेत्र के मौजे हरखौली निवासी सरल साह के 17 वर्षीय पुत्र चंदन मिरगंज बाजार स्थित अपने पी पी ज्वेलर्स नमक दूकान में किसी काम से आया हुआ था। दूकान में कुछ देर बैठने के बाद जब उसको प्यास लगी तो पानी पीने के लिए अपने पिता पी पी ज्वेलर्स के मालिक से बोला। पिता ने कहा कि अंदर आर०ओ० लगा हुआ है वहा से पानी कर आ जाओ। उसके बाद वह पानी पीने गया। जब वह पानी पीकर वापस आ रहा था, तो दुकान के अंदर ही साँप ने काट लिया जिससे वह अचेत हो गया। शाम को करीब 6 बजे ने साँप ने काटा था। नाज़ुक हालात देखते हुए ज्वेलर्स के मालिक ने अपने बेटा को बिना देरी करते हुए सदर अस्पताल में इलाज़ के लिए भेजा। जहा इनका इलाज़ चल रहा है।

वही दूसरी दूसरी घटना गोपालगंज नगर थाना के हजियापुर की है. जहाँ जयप्रकाश राम की ढाई वर्षीय छोटी कुमारी को अपने घर में खिड़की पर से कंघी उठाने गई थी। उसी क्रम में साँप ने काट लिया। जिससे उसका हालत बिगड़ने लगा तो घरवालो ने उसे सदर अस्पताल में लाया गया जहा इसका इलाज चल रहा है। हालत ऐसे थी जैसे कि वह बचने के लायक नही थी। लेकिन डॉक्टर और कंपाउडर के सूझ बूझ से उसका हालात में सुधार लाया गया है।

घटना कैसे घटती है

सबसे बड़ी बात यह है की आजकल बरसात के मौसम है। इस मौसम में ज़हरीले साँपो का आना शुरू हो जाता है। जिससे अपने ही घर में लोग सुरक्षित नही रहते है। आए दिन रोज़ आप देखते है और सुनते है। अगर थोड़ी सी सावधानी नही बरतेंगे तो आप भी इसका शिकार हो सकते है। इनके अंदर इतना ज़हर होता है कि जब यह काटते है तो लोग पानी पीने के लिए तरसते है और तड़प तड़प कर मरते है। ऐसा ही मामला आपको आए दिन देखने को मिलेगा।

इससे बचाव करने का तरीका है

जहा आपको साँप ने काटा है वहा से थोड़ा ऊपर किसी कपड़े से ज़ोर से बाँध दे। जिससे ज़हर का असर ऊपर न बढ़े। झाड़ फूक के चक्कर में न पड़े। सीधे अस्पताल लाए और इलाज़ करवाए। अक्सर लोगो को देखने को मिलता है कि जब साँप किसी को काटता है,तो लोग डॉक्टर के पास नही ले जाते है।बल्कि उनका झाड़ फूक के चक्कर में लग जाता है।इससे साँप काटने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!