गोपालगंज में शादी की कार्ड बांटने निकला युवक अस्पताल में लड़ रहा है जिंदगी और मौत से जंग

गोपालगंज जिला के पंचदेवरी प्रखंड के कुबरहीं गांव निवासी नूर मियां के घर से कुछ ही दिनों के अंतराल में बारात निकली थी, घर पर रिश्तेदारों का जुटना चालू हो गया था, लगभग शादी की सारी तैयारियां कर ली गई थीं। महज चंद ही रिश्तेदार बच गए थे जिनको कार्ड पहुंचाना शेष रह गया था, और वह भी पूरा किया जा रहा था। पर अचानक शुक्रवार को देर रात नूर मियां को पता चला कि उनका बेटा जिसकी शादी है वह बोलेरो की चपेट में आ गया है तो उनके पैर तले जमीन खिसक गए।

मालूम हो कि आगामी 17 जुलाई को ही नूर मियां के 20 वर्षीय बेटे मोहम्मद हुसैन की शादी होनी तय थी पर यह होनी को मंजूर नहीं था। हुआ यह कि मोहम्मद हुसैन प्रखंड के अपने कुछ रिश्तेदारों को अपनी शादी का कार्ड बांटने गया था और मीरगंज भागीपट्टी मुख्य मार्ग से होते हुए अपने घर लौट रहा था तभी अचानक प्रखंड के ही चकरपान गांव में उसी मार्ग से खलीलाबाद से सिवान बारात लेकर जा रही बोलेरो की चपेट में आ गया। हुसैन को बोलेरो से टकराते देख गांव की 50 वर्षीय महिला सलाम खातून मदद के लिए दौड़ी तो ड्राइवर ने भागने के चक्कर में उन्हें भी रौंद डाला। जिसके बाद ग्रामीणों ने गाड़ी को चारो तरफ से घेर लिया और हंगामा करने लगे। घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना कटेया के सब इंस्पेक्टर प्रकाश दुबे पहुंचे और अपनी सूझ-बूझ से भीड़ को शांत करवाया। जिसके बाद घायलों को नजदीकी रेफरल अस्पताल ले जाया गया। जहां स्थिति को नाजुक देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!