ICC Champions Trophy 2017: फादर्स डे पर बाप के साथ बेटे की लड़ाई

अपने पोते को हराने के बाद रविवार को भारत अपने बेटे यानि पाकिस्तान के साथ क्रिकेट की दुनिया में बादशाहत का सबसे बड़ा मुकाबला खेलेगी। भारत और पाकिस्तान दोनों ही देशोंं में इस मुकाबले के लिए लोगों की सांसें थम गई हैं। लोग बेसब्री से इस मुकाबले का इंतजार कर रहे हैं। इस मैच को लेकर फैंस के बीच बुखार भी चरम पर है। सेमीफाइनल में बांग्‍लादेश को आसानी से हराने के बाद भारत ने फाइनल में प्रवेश किया है। दुसरी तरफ पाकिस्‍तान ने सबको हैरान करते हुए इंग्लैंड को हराकर फाइनल में अपनी जगह बनाई है।

हालांकि इस टूर्नामेंट में लीग मुकाबले में भारत और पाकिस्‍तान एक बार आमने सामने आ चुके है। उस मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को 124 रनों की करारी शिकस्‍त दी थी। इस मैच के बाद पाकिस्तानी मीडिया और कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने इस टीम की निन्दा की थीं। पाकिस्तानी फैंस ने भी इस टीम से उम्मीद छोड़ दी थीं। लेकिन पाकिस्तानी टीम ने शानदार वापसी की और कुछ उलटफेर भरी जीत के बाद पाकिस्तान ने फाइनल में जगह बना ली थी।

दुसरी और भारत ने पूरे टूर्नामेंट में अपना दम दिखाया है। भारतीय टीम उम्मीदों पर खरी उतरी है। चाहे वो बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी या फिर फील्डिंग सभी क्षेत्र में टीम ने शानदार प्रदर्शन किया है। हालांकि भारत श्रीलंका के साथ मैच हार गई थी। लेकिन पाकिस्तान और दक्षिन अफ्रीका जैसी टीमों को हराने में सफल रही थी। भारतीय  बल्लेबाज रोहित शर्मा, शिखर धवन, कप्तान विराट कोहली शानदार फॉर्म में है। वहीं गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह तेज गेंदबाजी से रन रोकने के साथ विकेट भी निकाल रहें हैं।

अब 10 साल बाद फिर टीम इंडिया और पाकिस्तान के बीच टक्कर होगी। इससे पहले दोनों टीमें साल 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में भिड़ीं थीं। जिसमें टीम इंडिया ने बाजी मार ली थी। इतिहास गवाह है कि भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए वनडे वर्ल्ड कप और टी-20 वर्ल्ड कप में, भारत के हाथों हमेशा पाक को हार ही मिली है।

भारत-पाकिस्तान का  इतिहास

  • टीम इंडिया ने वनडे वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के साथ 6 मैच खेले हैं और उसने सभी में पाकिस्तान को हराया है। मतलब इसमें भारत का स्कोर 6-0 है।
  • टी-20 वर्ल्ड कप की बात करें, तो इसमें टीम इंडिया ने पाक के साथ 4 मैच खेलें हैं और 4 में भारत जीता है। इनमें से एक मैच साल 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप का शामिल है, जो टाई हुआ था, लेकिन बॉल-आउट में भारत जीत गया था।
  • 2015 वर्ल्ड कप में भी भारत ने पाकिस्तान को हराया था।
  • हालांकि चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के खिलाफ पाकिस्तान का रिकॉर्ड बराबरी का है। इस टूर्नामेंट के इतिहास में दोनों ही टीमें कुल 4 बार भिड़ी हैं, जिनमें से 2 बार पाकिस्तान को जीत मिली है और 2 ही बार भारत ने उसको हराया है। मतलब चैंपियंस ट्रॉफी में दोनों के बीच जीत-हार का रिकॉर्ड 2-2 है।
  • 2004 की चैंपियंस ट्रॉफी में इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेल गए मैच में पाक ने टीम इंडिया को तीन विकेट से हराया था। इसके बाद साल 2009 में पाकिस्तान ने भारत को सेंचुरियन में खेले गए मैच में 54 रन से हराया था। हालांकि टीम इंडिया ने साल 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी में और फिर इस बार के टूर्नामेंट में हाल ही में 4 जून को पाक को हराया है।

लेकिन जब भी यह दोनों देश क्रिकेट के मैदान पर होते हैं तो वो मैच सिर्फ मैच नहीं बल्कि युद्ध का मैदान बन जाता है। इस मैच में भी एक तरफ होगी गेंद की शक्ल में गोली और दुसरी तरफ बल्ले की शक्ल में कवच। जाहिर है ऐसे में फाइनल मुकाबला रोमांच से भरपूर होगा। और फादर्स डे पर एकबार फिर साबित हो जाएगा की “बेटा-बेटा होता है और बाप-बाप होता है”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!