गोरक्षक गोशाला बनाकर करें लावारिस पशुओं की सेवा – नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) और उसके सहयोगी संगठन ‘गोरक्षक’ का उपहास उड़ाते हुए सोमवार(5 जून) को कहा कि गो रक्षक जो अपने आपको पशु एवं गाय के प्रति संवेदनशील कहते हैं। उनका यह पहला कर्तव्य है कि सड़क पर लावारिस रूप से घूम रहे जानवरों के लिए विशेष गोशाला बनाकर उनको उसमें रखें तथा उसकी सेवा करें।

मुख्यमंत्री सचिवालय में सोमवार को आयोजित लोक संवाद के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान गो हत्या के संबंध में पूछे गये प्रश्न का जवाब देते हुए नीतीश ने कहा कि बिहार में गो हत्या वर्जित है। यह आज का कानून नहीं बहुत पहले से बिहार में गो हत्या वर्जित है। यहां के लोगों की मानसिकता गाय की हत्या की नहीं रही है।

उन्होंने बीजेपी के सहयोगी संगठन गो रक्षक दल पर निशाना साधते हुए कहा कि सड़क पर लावारिस पशु घूमते रहते हैं, जिस कारण से बहुत दुर्घटनायें घटती हैं। गो रक्षकों को इन लावारिस पशुओं का पालन पोषण करना चाहिए। नीतीश ने कहा कि प्लास्टिक खाकर कितने जानवर मर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि गोरक्षक जो अपने आपको पशु एवं गाय के प्रति संवेदनशील कहते हैं, उनका यह पहला कर्तव्य है कि सड़क पर लावारिस रूप से घूम रहे जानवरों के लिये विशेष गोशाला बनाकर उनको उसमें रखें तथा उसकी सेवा करें। नीतीश ने कहा कि वे पटना में इस तरह का प्रयोग करने जा रहा हैं।

उन्होंने कहा कि गो हत्या के नाम पर अगर यह मानसिकता है कि मूल समस्याओं से लोगों का ध्यान हटाया जाये तो हम उसके खिलाफ है। कश्मीर मसले पर पूछे गये एक प्रश्न के उत्तर में नीतीश ने कहा कि कश्मीर की स्थिति बहुत संवेदनशील है। केंद्र सरकार को सभी दलों को साथ लेकर कार्रवाई करने के लिए पहल करनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!