BSEB 12वीं कक्षा के नतीजे घोषित: साइंस में 30, आर्ट्स में 37 फीसदी छात्र हुए पास

बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (बीएसइबी) ने मंगलवार को इंटर साइंस, इंटर साइंस कॉमर्स और इंटर आर्ट्स और वोकेशनल का रिजल्ट एक साथ घोषित कर दिया है. इस बार इंटर साइंस, आर्ट्स और कॉमर्स तीनों संकाय के रिजल्ट में गिरावट दर्ज हुई है. इंटर साइंस में जहां करीब 30 फीसदी परीक्षार्थी ही सफल हो पाए हैं, वहीं आर्ट्स में 37 फीसदी और कॉमर्स में 73.76 फीसदी छात्र ही उत्तीर्ण हुए हैं. बता दें कि वर्ष 2016 में साइंस में 66.16 फीसदी, आर्ट्स में 55.62 फीसदी और कॉमर्स में 79.37 फीसदी छात्र सफल हुए थे.

विषय : कॉमर्स

– कुल 60022 छात्र परीक्षा में हुए शामिल

– पास हुए 43816

विषय : साइंस

– कुल 646231 छात्र परीक्षा में हुए शामिल

– पास हुए 193869

विषय : आर्ट्स

– कुल 533915 छात्र परीक्षा में हुए शामिल

– पास हुए 197548

कुल छात्र- 12,40,168 छात्र

पास हुए- 4,35,233 छात्र

कुल पास प्रतिशत है- 35 फीसदी

परीक्षार्थियों के आंखों से निकले आंसू

इंटर साइंस संकाय में इक्के दुक्के को ही मिला फर्स्ट डिविजन, सेकंड व थर्ड डिवीजन से फेल होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या ज्यादा रही है. परीक्षा के बाद रिजल्ट पाने की उम्मीद में बैठे परीक्षार्थियों को मंगलवार को इंटर का जो रिजल्ट प्राप्त हुआ, वह किसी सदमे से कम नहीं था. हर कोई बेहतर रिजल्ट की उम्मीद के साथ नेट पर रिजल्ट तलाशते नजर आये. मगर अधिकांश के हिस्सों में निराशा ही हाथ लगी और रिजल्ट देखकर परीक्षार्थी के होश उड़ गये.

छात्रों ने किया सड़क जाम

बांका में छात्रों ने इंटरमीडिएट का रिजल्ट काफी खराब होने की वजह से अमरपुर बांका मुख्य पथ को बस स्टैंड के पास जाम कर दिया. जाम करीब एक घंटे तक रहा. बताया जाता है कि यहां के राजापुर गांव से 55 छात्रों ने परीक्षा दी थी, सभी फेल हो गये. कॉलेज कर्मियों ने भी स्वीकार किया कि कॉलेज का रिजल्ट खराब हुआ है. जाम की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पंहुची और दोबारा कॉपी जांच करवाने का आश्वासन देकर जाम तुड़वाया.

केंद्रीय मंत्री ने बिहार सरकार को दी ये नसीहत

बिहार इंटरमीडिएट के खराब रिजल्ट पर केंद्रीय राज्य मंत्री एवं रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जहां सभी राज्यों के बोर्ड के अच्छे नतीजे आ रहे है. वहीं, बिहार इंटर के रिजल्ट से यह पता चलता है कि यहां शिक्षा व्यवस्था चौपट है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि राज्य सरकार को अपनी कमी को स्वीकार करनी चाहिए. कमी स्वीकार कर ही इसमें सुधार किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि कदाचार मुक्त परीक्षा के बाद भी पास प्रतिशत दूसरे राज्यों की तरह होना चाहिए. उन्होंने राज्य सरकार को गलती स्वीकार करने की नसीहत दी है.

जुलाई में आयोजित की जायेगी कंपार्टमेंटल परीक्षा

बीएसइबी द्वारा जारी इंटरमीडिएट की परीक्षा में इस बार रिकार्ड छात्र फेल हुए हैं. फेल छात्रों के लिए कंपार्टमेंटल परीक्षा जुलाई में आयोजित की जायेगी. शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन ने कहा कि रिजल्ट में गिरावट का अध्ययन किया जाएगा. कंपार्टमेंटल परीक्षा जुलाई के प्रथम सप्ताह में आयोजित की जाएगी.

ये रहे टॉपर्स:

साइंस : खुशबू कुमारी (सिमुलतला आवासीय विद्यालय, जमुई)

कॉमर्स : प्रियांशु जायसवाल (कॉलेज ऑफ कॉमर्स, पटना)

आर्ट्स : गणेश (राजकीय आर एन एस उत्क्रमित मध्य विद्यालय, चकारी, समस्तीपुर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!