गोपालगंज में गर्मी का बढता प्रकोप स्कूली छात्रा हुई बेहोश, सदर अस्पताल में हुई भर्ती

हर साल की भांति इस साल कुछ जल्दी ही गर्मी ने अपना पांव पसार लिया है. एक तरफ सरकार गर्मी से बचने के लिए सभी सरकारी एवं गैर सरकारी स्कूलों को अपने पठन-पाठन क्रिया का समय सुबह चलने का आदेश दिया है लेकिन उसके बावजूद भी पारा इतना ज्यादा है कि घर से बाहर निकलना मुश्किल है. बच्चों को पठन-पाठन क्रिया को लेकर एवं रोजगार को लेकर जवानों का बाहर निकलना मजबूरी है. इसी गर्मी के प्रकोप के कारण शहर के एस एस बालिका कि कक्षा 7वीं  की छात्रा बेहोश हो कर स्कूल के ही प्रांगण में गिर गयी.

बताया जाता है की नगर थाना क्षेत्र के कैथवलिया गाँव निवासी बिगु साह की पुत्री मनीषा कुमारी एस एस बालिका कि कक्षा 7वीं  की छात्रा है. हर रोज की भांति मनीषा सुबह अपने स्कूल आई थी. तकरीबन 10:00 बजे अपने कुछ सहेलियों के साथ अपने क्लास से निकल कर स्कूल प्रांगण में लगा चापाकल से पानी पीने के लिए गई थी. पानी पिने के ही क्रम में चापाकल के पास ही मनीषा गिर कर बेहोश हो गई. सहेलियों के शोर मचाने पर स्कूल प्रशासन ने सदर अस्पताल से एंबुलेंस मंगाकर सदर अस्पताल में भर्ती कराया. उसके बाद मनीषा के परिजनों को इसकी सूचना दी गई. परिजन तत्काल सदर अस्पताल पहुंचे जहां उसकी इलाज चल रही थी. डॉक्टरों की माने तो तापमान में एकाएक वृद्धि के कारण उसका तबीयत खराब हुआ. हालांकि डॉक्टर यह भी कह रहे हैं कि पिछले दो-तीन दिन से गर्मी ज्यादा बढ़ने के कारण अस्पताल में डायरिया, डिसेंट्री, पेट में दर्द, सिर में दर्द जैसे बीमारी के मरीजों का संख्या बढ़ गया है.

जिला प्रशासन की बात करें तो ठंडे की मौसम में शहर के तमाम चौक चौराहे पर और सदर अस्पताल प्रांगण में अलाव की व्यवस्था कराया जाता है जिसे आम आदमी को कुछ राहत महसूस होता है, लेकिन इतनी गर्मी पड़ने के बावजूद पूरे जिले में शहर हो या गांव कहीं भी जिला प्रशासन द्वारा शीतल पेयजल की व्यवस्था अभी तक देखने को नहीं मिल रहा है कारण जो भी हो लेकिन इस मुसीबत से आम आदमी को निपटना पड़ता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!