सुप्रीम कोर्ट ने कहा-दोनों पक्ष राम मंदिर के मसले को बातचीत के ज़रिये आपस में सुलझाए

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद पर अहम टिपप्णी करते हुए कहा दोनों पक्ष मसले को बातचीत के ज़रिए सुलझाएं

इतना ही नही सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ये धर्म और आस्था से जुड़ा मामला है और संवेदनशील मसलों का हल आपसी बातचीत से हो. मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर ने सुनवाई के दौरान कहा कि ये धर्म और आस्था से जुड़ा मामला है. आपस में बैठें और सुलझाएँ.

बीजेपी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कोर्ट में अयोध्या मामले की तुरंत सुनवाई के लिए याचिका दायर की हुई है. सुब्रमण्यम स्वामी ने हाल ही में एक चेनल से बातचीत में कहा कि अयोध्या में दो साल के भीतर वो राम मंदिर बनवाएंगे और वहीं बनवाएंगे जहां वो पहले से मौजूद है.

2010 में इलाहाबाद हाईकोर्ट के लखनऊ पीठ ने बहुमत से यह फ़ैसला दिया था कि जिस जगह पर राम की मूर्ति स्थापित है वहाँ मूर्ति ही रहेगी और शेष ज़मीन को तीन बराबर हिस्सों में बाँटा जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!