Mon. Aug 26th, 2019

आतंक फैलाने के लिए ISIS ने लॉन्च किया App

दुनिया के खूंखार आतंकी संगठनों में शुमार इस्लामिक स्टेट (IS) ने अपने अभियान को बढ़ाने के इंटरनेट और सोशल मीडिया का सहारा ले रहा है। जानकारी के मुताबिक आईएस ने अपना एप लॉन्च किया है। एप, फांसी और युद्ध के मैदान में जीत की न्यूज और वीडियो दिखाता है। साथ ही आतंकी संगठन के एजेंडे का प्रचार करता है। इस एप का नाम ‘अमाक’ न्यूज है।

आईएस के एप का नाम ‘अमाक’ न्यूज :-

फॉर्च्यून मैगजीन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक एंड्रॉयड बेस्ट यह एप, एक न्यूज पोर्टल है जो कि अमाक न्यूज एजेंसी द्वारा संचालित है, जो कि आईएस से संबद्ध एक ग्रुप माना जाता है। एप को संगठन के प्रचार के लिए डिजाइन किया गया है। एप को शुरू करते ही न्यूज फीड और वीडियो चलाने के लिए आइकन्स दिखाई देते हैं। हालांकि एप शायद आईएस के नियंत्रण के बाहर के क्षेत्रों में काम नहीं करेगा।

गूगल प्ले स्टोर से नहीं हो सकता डाउनलोड :-

घोस्ट सिक्योरिटी ग्रुप के मुताबिक, एप को गूगल प्ले स्टोर जैसे एंड्रॉयड बाजार से डाउनलोड नहीं किया जा सकता। इसके स्थान पर टेलीग्राम एप और अन्य एंक्रिप्टेड संचार माध्यमों के जरिए डाउनलोड का एक लिंक आईएस के सदस्यों के बीच शेयर किया जा सकता है।

आईएस ने शुरु किया अपना सोशल नेटवर्क ‘किलाफाबुक’ :-

रिपोर्ट के मुताबिक, इस एप को एंड्रॉयड डिवाइस में डाउनलोड किया जा सकता है। यहीं नहीं ट्विटर,फेसबुक और यूट्यूब द्वारा प्रतिबंध के चलते आईएस ने जिहादियों के लिए अपना एक सोशल नेटवर्क’किलाफाबुक’ भी तैयार किया है। इसका कारण है भर्ती की रणनीति। दरअसल आईएस के लिए भर्ती की रणनीति तैयार करने के लिए सोशल मीडिया बेहद अहम है।

फेसबुक आईएस के लिए महत्वपूर्ण है :-

theconversation.com के मुताबिक, फेसबुक यंगस्टर्स, स्पोर्टरों और रंगरूटों को इस्लाम का हवाला देते हुए और प्रचार के माध्यमों से हिंसा के कृत्यों के लिए उकसाने के लिए एक प्रमुख मंच है। आईएस आतंकी हमलों को अंजाम देने की योजना बनाने के लिए कूट संदेश एप्स का इस्तेमाल करता है जिनमें किक, श्योरस्पॉट, विकर और टेलीग्राम शामिल है। इन्हें हैक करना आसान नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!