नेपाल में गतिरोध जारी, पूर्व प्रधानमंत्री के घर में तोड़फोड़

नेपाल के रौटाहाट जिले में मधेसी प्रदर्शनकारियों ने आज पूर्व प्रधानमंत्री एवं वरिष्ठ सीपीएन-यूएमएल नेता माधव कुमार नेपाल के घर में तोड़फोड़ की जबकि एक एम्बुलेंस और भारत से आयातित 20 लाख रूपए मूल्य की दवाओं से लदे एक ट्रक में आग लगा दी।

गौर नगरपालिका में यूनाईटेड डेमोक्रेटिक मधेसी फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने नये संविधान का विरोध करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री के निवास की ओर रैली निकाली और उनके मकान में तोड़फोड़ की। हमले में खिड़कियां टूट गयीं।

सीपीएन यूएमएल ने एक बयान जारी कर इस घटना की निंदा की और मधेसी कार्यकर्ताओं से हिंसा एवं जोरजबर्दस्ती के बजाज वार्ता के जरिए मुद्दे का हल करने की अपील की।

पुलिस के अनुसार उधर रक्सौल के समीप भारत नेपाल सीमा पर ज्वायंट डेमोक्रेटिक मधेसी फ्रंट (जेडीएमएफ) के आंदोलनकारियों ने दवाओं से लदे एक ट्रक में आग लगा दी। कल रात परसा की बीरगंज नगरपालिका में यह घटना घटी। ट्रक जनकपुर जा रहा था।

हालांकि जेडीएमएफ ने एक बयान जारी कर कहा था कि वह दवाओं से लदे वाहनों को जाने देगा। इसी बीच पूर्वी नेपाल के मोरंग में आंदोलनकारी मधेसी फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने एक एम्बुलेंस में आग लगा दी। एम्बुलेंस एक बच्चे को लेकर बिराटनर के जिला मुख्यालय के अस्पताल जा रहा। आग लगने से बच्चे को मामूली जख्म पहुंचा लेकिन वह सुरक्षित है।

नेपाल के तराई क्षेत्र में रहने वाले भारतीय मूल के मधेसी नये संविधान का विरोध कर रहे हैं। प्रदर्शन के चलते अभी तक हिंसक प्रदर्शनों में 40 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं और प्रमुख सीमाई व्यापारिक मार्गों से भारत से नेपाल में आने वाले सामान की आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!