जयपुर में फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग के दौरान संजय लीला भंसाली के साथ हुई मारपीट

डायरेक्टर संजय लीला भंसाली से जयपुर के जयगढ़ फोर्ट में शूटिंग के दौरान बदसलूकी की गई है। भंसाली से ये बदसलूकी करणी सेना के कुछ कार्यकर्तओं ने की है। करणी सेना का आऱोप है कि भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ में इतिहास से जुड़े तथ्यों से छेड़छाड़ की जा रही है। करणी सेना ने फोर्ट के अंदर शूटिंग के इंस्ट्रूमेंट्स में तोड़फोड़ भी की। इसके बाद भंसाली को शूटिंग रोकनी पड़ी है।

बता दें कि जयपुर में संजय लीला भंसाली की अपनी अपकमिंग फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग चल रही है। इसी दौरान करणी सेना के कार्यकर्ता फिल्म का विरोध करने जयगढ़ पोर्ट पहुंच गए। जब भंसाली ने इन्हें रोकने की कोशिश की तो इन्होंने भंसाली को थप्पड़ जड़ दिया। भंसाली यहां जयगढ़ फोर्ट में फिल्म के कुछ खास दृश्यों को शूट कर रहे हैं। दोपहर करीब 12 बजे के बाद करणी सेना के कार्यकर्ता वहां पहुंचे और फिल्म का विरोध करने लगे। शूटिंग के लिए रखे गए इंस्ट्रूमेंट्स और स्पीकर वगैरह भी तोड़-फोड़ दिए। इस दौरान वहां अफरातफरी मच गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को संभाल लिया। फिलहाल शूटिंग रोक दी गई है।

राजपूत करणी सेना के लीडर लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा- जिस रानी ने देश और कुल की मर्यादा के लिए 16 हजार रानियों के साथ जौहर कर लिया था उसे इस फिल्म में खिलजी की प्रेमिका के रूप में दिखाना बेहद आपत्तिजनक है।

इससे पहले जोधा-अकबर का किया विरोध

करणी सेना का आरोप है कि फिल्म में रानी पद्मावती की छवि और इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है।  इसी करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने एकता कपूर के सीरियल जोधा-अकबर का भी भारी विरोध किया था। करणी सेना का आरोप था कि सीरियल में भी इतिहास को तोड़-मरोड़ कर जोधा को गलत तरीके से पेश किया गया था।

शूटिंग के लिए फोर्ट प्रशासन को दी एप्लीकेशन

बता दें कि बुधवार को संजय लीला भंसाली अपनी टीम के साथ आमेर फोर्ट में भी टहलते हुए नजर आए थे।  आमेर महल प्रशासन ने बताया कि भंसाली की यूनिट की ओर से शूटिंग करने के लिए एप्लीकेशन आ चुकी है। वे 1 व 2 फरवरी को आमेर महल में शूट करेंगे। कुछ दिन के ब्रेक के बाद फिर से शूटिंग शुरू की जाएगी। बताया जाता है कि भंसाली शहर व आस-पास इलाकों में 8 मार्च तक शूटिंग करने का प्लान बना रहे हैं। जयपुर के फोर्ट और यहां की लोकेशंस पर पद्मावती से जुड़े कई सीन शूट होने हैं। इससे पहले बाजीराव मस्तानी की शूटिंग भी जयपुर और आस-पास की लोकेशंस पर हो चुकी है।

रानी पद्मावती कौन थी?

आपको बता दें कि रानी पद्मावती को पद्मिनी के नाम से भी जाना जाता है। वो चित्तौड़गढ़ के राजा रतनसिंह की पत्नी थी। कहा जाता है कि खिलजी वंश का शासक अलाउद्दीन खिलजी पद्मावती को पाना चाहता था। रानी को जब ये पता चला तो उन्होंने कई दूसरी राजपूत महिलाओं के साथ जौहर कर लिया। ऐसा माना जा रहा है कि बाजीराव मस्तानी की तरह इस फिल्म में भी खिलजी और पद्मावती को सेंटर में रखकर कहानी को बुना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!