गोपालगंज जिला कमिटी कांफ्रेस ने नोटबंदी के खिलाफ दिया धरना

गोपालगंज जिला कमिटी कांफ्रेस ने नोटबंदी के मद्देनजर शहर के अम्बेडकर चौक पर  जिला कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष इफ़्तेख़ार हैदर की अध्यक्षता में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया.

धरना को संबोधित करते हुए इफ़्तेख़ार हैदर कहा की  नोटबंदी फटेहाल, गरीब किसान, असंगठित क्षेत्र के मजदूर, कामगार, फूटपाथी, दुकानदार, गृहणी 61 दिनों से परेशान है और प्रधानमंत्री इमानदारी का लेबल बनाए रखने की बार बार घोषणा करते है जबकि उन्होंने साहारा और बिरला ग्रुप से अपने मुख्य मंत्री काल में 30 अक्तूबर 2013 से 2014 फरवरी तक 40 करोड़ लिए जो की सीबीआई माननीय सुप्रीम कोर्ट के आयकर विभाग की छापेमारी कई माह बाद दस्तावेज़ जमा किये है.

प्रभारी एवं पूर्व विधायक सुरेश मिस्र ने सभा को संबोधित करते हुए कहा की नोटबंदी से कितना काला धन आया वे कौन लोग है. नोट निकलने के लिए कितने कितने नागरिकों की जान बैंक की लाइनों में मरे इसकी जानकारी आम जनता को दी जाए. रिज़र्व बैंक का बार बार नोट बदलने और निकलने के 68 नियम बदल डाले. देश की जनता इसका बदला शांतिपूर्ण तरीके से लेगी.

सभा के अंत में जिला अध्यक्ष इफ़्तेख़ार हैदर ने कहा कि नोटबंदी तथा प्रधानमंत्री के भ्रष्टाचार के खिलाफ कांग्रेस का आन्दोलन तीन माह तथा सोनिया गाँधी और कांफ्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी के आहवान पर जारी रहेगा. नोटबंदी के प्रभाव से मृत लोगों का मुआवजा देना होगा. किसान-मजदूर, गृहणीयों की दुश्वारियों को ऋण दिलाने के लिए महामहिम राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी जी को जिलाधिकारी के माध्यम से ज्ञापन सौप रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!