पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के ऊपर न्यायालय ने हत्या औए षड्यंत्र रचने का आरोप गठित किया

पूर्व राजद सांसद और बाहुबली मोहम्मद शहाबुद्दीन के ऊपर चल रहा तेज़ाब कांड और इसके चश्मदीद गवाह राजीव रौशन के हत्या से जुड़े मामले में कल न्यायालय ने उनपर हत्या औए षड्यंत्र रचने का आरोप गठित कर दिया है जिसकी सुनवाई मंडल करा में गठित विशेष करा में हुई.

जस्टिस वीके शुक्ला के इस विशेष अदालत में बचाव पक्ष के और से अभय कुमार राजन ने अदालत में यह दलील पेश किया की घटना के समय शहाबुद्दीन तेजाब कांड में जेल में बंद थे हत्या के पूर्व राजीव रौशन का गवाही हो चुका थाइस परस्थिति में उनपर चार्ज का कोई मामला ही नहीं बनता है.

जबकि इसके विरोध में विशेष लोक अभियोजक जयप्रकाश सिंह और उनके सहयोगी रघुवर सिंह ने इस बात का विरोध जताते हुए इस हत्या को षड्यंत्र बताया तथा आरोप को गठित करने की मांग की जिसके बाद अदालत ने दोनों पक्षों के बातों को सुनते हुए अदालत ने इस हत्याकांड में धरा 302/120(बी) के अताहत आरोप को गठित कर दिया है विदित हो की सिवान के व्यवसाई चंदा बाबू के दो बेटे गिरीश और सतीश का अपहरण 2004 में हो गया था जिसके बाद उनकी हत्या कर दी गई थी जिसमे राजीव रौशन गवाह था. जबकि राजीव रौशन को 16 जुलाई 2015 को डीएवी मोड़ पर हत्या कर दी गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected By Awaaz Times !!